कुंडली में ऐसे योग हो तो मिलता है सूंदर जीवन साथी

आज के समय अभी लोग अपना जीवन सुन्दर चाहते है उसके लिए वह बहुत बार ज्योतिषी को अपनी कुंडली बता कर जानते है  तो आइये जानते है क्या ऐसे योग है आपकी कुंडली में

1. यदि किसी व्यक्ति की कुंडली के सप्तम भाव में वृषभ या तुला राशि होती है तो उसे सूंदर पत्नी मिलती है
2.यदि कुंडली के सप्तम भाव का सौम्य ग्रह होता है और वह स्वराशि होकर सप्तम भाव में ही स्थित होता है व्यक्ति को सूंदर और शक्तिशाली पत्नी प्राप्त करता है

3. जब सप्तम भाव का स्वामी ग्रह हो और वह नवम भाव में हो तो व्यक्ति को गुणवती और सुन्दर पत्नी प्राप्ति होतीं है इस योग से व्यक्ति का भाग्योदय विवाह के बाद होता है

4.सप्तम भाव का स्वामी एकादश भाव में उपस्थित हो तो व्यक्ति की पत्नी रूपवती, संस्कारी, मीठा बोलने वाली और सुंदर होती है। विवाह के पश्चात व्यक्ति की आय में वृद्धि होती है या पत्नी के माध्यम से भी लाभ प्राप्त होते हैं।

5. यदि व्यक्ति की कुंडली के सप्तम भाव में वृष या तुला राशि होती है तो व्यक्ति को चतुर, मीठा बोलने वाली, सुंदर, शिक्षित, संस्कारी, तीखे नयन-नक्ष वाली, गौरी, संगीत कला आदि में दक्ष पत्नी प्राप्त होती है।
6. यदि कुंडली के सप्तम भाव में मिथुन या कन्या राशि हो तो व्यक्ति को कोमल, आकर्षक व्यक्तित्व वाली, भाग्यशाली, मीठा बोलने वाली श्रेष्ठ पत्नी प्राप्त होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *